आज मैं आपको Quantum Computer के बारे में बताने जा रही हूँ ,अब आप सोच रहे होगें कि आखिर यह कैसा computer है पहले तो इसके बारे में कभी सुना नहीं है तो आपकी जानकारी के लिए बता दे यह भविष्य में launch होने वाला computer है| जिस पर अभी शोध चल रहा है लेकिन आगे जाकर आप इस computer का use कर सकते हो|

तो आइए जानते है कि आखिर Quantum Computer क्या है? कैसे काम करता है और इसकी क्या-क्या विशेषताएं जो इसे अन्य computer से अलग बनाती है?

Quantum Computer Kya Hai?

About Quantum Computer

Quantum Computer बहुत ही आधुनिक यंत्र है जो quantum physics के rules पर कार्य करता है| इसके अंदर use होने वाले components size में बहुत छोटे और इसका तापमान भी बहुत कम होता है|

यह computer जटिल से जटिल गणना चुटकियों में कर सकता है जिसे आज के computer नहीं कर सकते है| क्योंकि Quantum Computer में गणना हेतु चिपों की जगह परमाणुओं का प्रयोग किया जाता है|

यह computer संगणना के लिए क्युबिट्स का use करता है जबकि आज के computer बाइनरी अंको का use करते है| इस computer की क्षमता और गति अन्य computer की तुलना में कई गुना अधिक होती है| इस computer को Quantum Computing भी कहते है|

Quantum Computer की नीव invention कब और किसने रखी थी?

Quantum Computer की नीव Richard Feynman ने 1982 में रखी थी| जबकि DARPA ने 2003  में दुनिया का पहला Quantum Computer बनाया था|

इसके बाद 2016  में IBM ने 20 bits की processing power का use करके Quantum Computer बनाया| जो कि अब तक का सबसे ताकतवर computer है|

Quantum Computer कैसे काम Works करता है?

अब आप सोच रहे होंगे कि इतनी तेज गणना करने वाला computer काम कैसे करता होगा| जैसा की हम जानते है साधारण computer बाइनरी अंक पर कार्य करता है लेकिन Quantum Computer qubits digit पर कार्य करते है|

Qubits digit की कोई स्थाई संरचना नहीं होती ,इसका अपना एक अलग ही स्थान होता है जिसे Super Position कहते है|

Qubits digit का super position स्थान ही Quantum Computer को दुसरे computer से अलग बनता है| Qubits में इतनी अधिक उर्जा होती है कि Quantum Computer को कार्यक्षम बनाने के लिए absolute zero के तापमान में ठंडा करके रखना पड़ता है| पूर्ण रूप से ठंडा होने के बाद भी यह Quantum Computer को कार्यक्षम नहीं रहने देती है इसलिए इसमें programming का काम अलग तरह से किया जाता है| इसमें बहुत प्रकार के logic gates का use भी किया जाता है| जो इसे आज के सभी computer से अलग बनता है और इसके कार्य करने की क्षमता को भी बढ़ाता है|

Quantum Computer की विशेषताएं (Features) क्या-क्या है?

इस computer की बहुत सारी ऐसी विशेषताएं है जो इसे अन्य computer से अलग बनाती है| तो आइए जानते है उनके बारे में –

  • इस computer के कार्य करने की क्षमता बाकी सभी computer से कई गुना ज्यादा होती है|
  • इस computer के द्वारा जटिल रासायनिक मॉडल का विश्लेषण भी किया जा सकता है|
  • यह बहुत ही शुद्ध परिणाम देने में सक्षम साबित होगा|
  • इसमें दुसरे computer की तुलना में बहुत कम उर्जा खर्च होगी|
  • इस computer में किसी भी data के hack होने की संभावना न के बराबर होगी|
  • यह computer quantum algorithms का use करता है जिसके कारण यह कुछ ही सेकंड में output दे देता है|

क्या भविष्य (Future of) में Quantum Computer सफल होगा?

जैसा कि हमने article के शुरुआत में बताया था की Quantum Computer पर अभी भी शोध चल रहा है| क्योंकि इसमें अभी भी बहुत सारी कमियां है जिसे दूर किया जा रहा है| जब तक यह पुरे तरीके से तैयार नहीं हो जाता ,तब तक यह आम लोगों के लिए launch नहीं होगा| लेकिन एक दिन ऐसा जरुर आयेगा जब इस computer को हर कोई चला सकेगा| जब यह computer प्रयोग में लाया जाएगा तो यह चिकित्सा ,विज्ञान और उद्योग के क्षेत्र में क्रांति ला देगा|

तो दोस्तों आप लोगों ने देखा कि भविष्य में Quantum Computer के रूप में कितना आधुनिक यंत्र आने वाला है जो आपकी हर समस्या को सेंकड में हल कर देगा और हमारे देश को ओर अधिक ऊंचाईयों पर लेकर जाएगा|