मिटटी की लखारी से घरेलु उपचार – Lakhaari

आज हम आपको एक ऐसे घरेलू उपचार के बारे में बताने जा रहे है जो कि अपने कभी सोचा भी नहीं होगा| जिसके बारे में शायद बहुत कम लोग जानते होगे| क्योंकि यह एक बहुत ही देशी इलाज है|
अगर आप गांव में रहते है तो आपने कई बार अपने या अपने आसपास के घरों की दीवारों के कोनों पर या फिर दरवाजे की चौखट पर मिट्टी से बनी एक अजीब सी आकृति देखी होगी ,जो सांप की वामी के समान दिखाई देती है| जिसमे छोटे-छोटे छेद होते है| लेकिन यह सांप की वामी से आकार में बहुत छोटी होती है| जिसे हम लखारी कहते है| यह गांव में बहुत ही आसानी से मिल जाती है|
लेकिन आप सोच रहे होगे कि आखिर यह लखारी कौन सी बीमारी को दूर करती है| तो आपकी जानकारी के लिए बता दे कि यह उल्टी व पेट दर्द में बहुत ही लाभदायक है| यह बहुत ही पुराना देशी उपचार है जो हमारे दादा या पर दादा किया करते होगे|

nani ke nuskhe in hindi language, gharelu nuskhe,

मिटटी की लखारी से घरेलु उपचार – Lakhaari

लखारी (Lakhaari) का उपयोग इलाज हेतु कैसे करे –

सबसे पहले लखारी को चाकू या किसी भी नुकीली चीज से दीवार के कोने या दरवाजे की चौखट से निकाल ले| इसे बड़ी ही सावधानी के साथ निकाले ,जिससे यह फूटे न|
इसके बाद इसे कंडे या कोयले की आग में पका ले| जैसे मिट्टी के बर्तन को पकाया जाता है|
इसके बाद लखारी को आग से निकालकर ,एक कटोरी में आधा गिलास साफ पानी ले और उसमे डाल दे|
जब आप गर्म लखारी को पानी में डालोगे तो पानी से धुआं निकलने लगेगा|
लखारी को 1 मिनिट तक पानी में डालने के बाद निकाल ले|
इसके बाद इस पानी को गुन–गुना ही मरीज को पिलाये तो उसकी उल्टी कुछ देर के बाद बंद हो जाएगी|
अगर किसी को पेट दर्द है तो ऐसा करने से उसका पेट दर्द भी ठीक हो जायेगा|

तो दोस्तों आप लोगों ने देखा कि एक साधारण सी लगने वाली लखारी हमारे कितने काम की है| किसी ने सच कहा है कि प्रकृति द्वारा दी गई हर एक चीज किसी न किसी उपयोग में जरुर आती है|

लेकिन एक बात का ध्यान जरुर रखे कि यह केवल एक घरेलु उपचार है ,जो छोटी-मोटी तखलीफ़ होने पर किया जाता है| अगर किसी को उल्टी व पेट दर्द की गंभीर समस्या है तो उसे तुरंत अस्पताल ले जाये|

अगर आप और भी दादी नानी के नुस्खे जानना चाहते है, तो यहाँ देखे