गुड़हल के फूल एवं पत्तो से होने वाले लाभ एवं हानि

0
2085
3.2
(6)

गुड़हल या जवाकुसुम वृक्षों के मालवेसी परिवार से संबंधित एक फूलों वाला पौधा है। इसका वनस्पतिक नाम है- हीबीस्कूस् रोज़ा साइनेन्सिस। गुड़हल का पौधा वैसे तो एक आम सा पौधा होता है | लेकिन यदि इसके गुणों को देखा जाये तो वह बहुत ही खास होते है और स्‍वास्‍थ्‍य के खजाने से भरे पड़े है | गुड़हल के पेड़ पर लगने वाला फूल बहुत ही गुणकारी और लाभदायक होता है | ये फूल आमतोर पर सभी जगह देखे जा सकते है ये बहुत ही सुन्दर होते है और यह लाल , सफेद , गुलाबी , पीले और बैंगनी रंग के होते है | सभी लोग इन फूलो को केवल पूजा के उपयोग में लेते है लेकिन वे नहीं जानते है कि यह फूल केवल पूजा में ही काम नही आता है बल्कि इसके बहुत सारे उपयोग और भी है | लेकिन हम ये भी जानते है की कोई भी चीज लाभदायक और हानिकारक दोनों ही होती है इसी प्रकार इस फूल के बहुत सारे लाभ है तो कुछ हानि भी है जिसके बारे में हम आपको बतायेगे |

गुड़हल के फूल से होने वाले लाभ (Benefits from flowers and leaves of hibiscus)-:

  1. मुंह में छाले होने पर अगर हम गुडहल के पते चबाये तो उससे लाभ होता है।
  2. गुडहल के फूल से बनी चाय सर्दी-जुखाम और बुखार आदि को ठीक करने के लिये प्रयोग की जाती है।
  3. गुड़हल के फूल का अर्क कोलेस्ट्राल को कम करने में सहायक होता है |
  4. गुडहल के फूल को गरम पानी के साथ उबाल कर पिया जाए तो यह हाई ब्‍लड प्रेशर को कमकरने में सहायक होता है |
  5. गुडहल के फूल में विटामिन सी, मिनरल और एंटीऑक्‍सीडेंट पौष्टिक तत्‍व होते है। यह पौष्टिक तत्‍व सांस संबन्‍धी तकलीफों को दूर करते हैं।
  6. यदि आप के चेहरे पर बहुत मुंहासे हो गए हैं तो लाल गुडहल की पत्‍तियों को पानी में उबाल कर पीस लें और उसमें शहद मिला कर मुंहासे पर लगाये तो आपको मुंहासे में आराम मिलेगा |
  7. गुडहल के फूलों को सुखाकर बनाया गया पावडर दूध के साथ एक एक चम्मच लेते रहने से रक्त की कमी दूर होती है | और इसी पाउडर को एक चम्मच मिश्री के साथ पानी से लेते रहने से स्मरण शक्ति तथा स्नायुविक शक्ति बढाती है।
  8. गुड़हल के फूल या पत्तियों को सरसों के तेल में या नारियल तेल में उबा लें। ठंडा होने के बाद इस तेल को सिर पर मालिश करें। इस प्रकार आप लगातार 1 महीने तक करें ऐसा करने से आपके बाल सुंदर घने होने के साथ साथ बालों को ग्रोथ मिलने लगेगी और आपके बाल तेजी से बढ़ने लगेंगे।
  9. .मेंहदी या नींबू के रस के साथ गुड़हल की पत्तियों को मिलाकर भी आप लगा सकते है। इस प्रकार से उपयोग करने पर आपके बालों के लिए यह प्राकृतिक कंडीशनर का काम करेगा।
  10. गुड़हल के पत्ते का सेवन करने से पेट दर्द ठीक हो जाता है क्योकि इसके पत्तों में फ्लेवनॉयड और पॉलीफेनॉल होता है। जो इंसान के शरीर में किसी भी तरह के सूजन और दर्द में बहुत ही लाभकारी होता है
  11. सफेद गुड़हल के पत्ते के रस को चीनी में मिलकर पीने से पित्त नष्ट होता है |
  12. 14 दिनों तक रोज गुड़हल के फूल की कलियों का चीनी के साथ सेवन करने से बालो का झड़ना रुक जाता है |
  13. गंजापन दूर करने में भी गुड़हल का फूल बहुत उपयोगी है
  14. खारे पानी में गुड़हल मिलाकर शरबत बनाकर पीने से गले के सारे रोग दूर हो जाते है |
  15. यह लेडिस के मासिकधर्म को नियमित करने में भी सहायक होता है |
  16. गुड़हल की पत्तियों का सेवन करने से त्वचा चमकदार और सुन्दर दिखने लगती है |
  17. अगर किसी को किडनी स्टोन की समस्या है तो गुड़हल के फूल से बनी चाय का सेवन करे | यह चाय किडनी स्टोन की समस्या को दूर करती है |
  18. गुड़हल का सेवन करने से वजन भी कम होता है |
  19. बालों को काले घने और लंबा करने के लिए गुड़हल के फूल या उसकी पत्तियों को आंवले के साथ पीस ले और उसका लेप तैयार कर अपने बालों की जड़ों पर लगाएं। इससे आपके बाल गिरने बंद हो जाएगें साथ ही आपके बाल घने और चमकदार दिखने लगेगें।
  20. बालों को सुंदर और काले करने के लिए आप गुड़हल के फूल के साथ अंडे का भी उपयोग कर सकते है। इसके लिए पहले गुड़हल के फूल या पत्तियों को पीस लें फिर इसमें एक अंडा मिलाएं। इस मिश्रण को बालों की जड़ों तक लगाएं। इस मिश्रण का नियमित उपयोग करने से आपके बालों की खोई हुई चमक वापस आ जाएगी।

गुड़हल के फूल और पत्तो से होने वाले नुकसान (Losses from flowers and leaves of hibiscus)-:

  1. गुड़हल के फूल से बनी चाय का सेवन गर्भवती महिलाओ को नही करना चाहिए क्योकि ऐसा करने से उनका गर्भपात हो सकता है |
  2. गुड़हल से ब्लड प्रेशर को कम किया जाता है इसलिए कम ब्लड प्रेशर वाले लोग इसका सेवन न करे |
  3. गुड़हल की चाय पीने से नींद आने लगती है इसलिए वाहन चालक इसका सेवन न करे |
  4. यदि आप किसी भी हार्मोनल उपचार से गुजर रहे हैं तो गुड़हल का सेवन नहीं करें |
  5. गर्भनिरोधक की गोलियां लेनी वाली महिलाओं को गुड़हल की चाय नहीं पीनी चाहिए |

इस प्रकार हमने देखा की साधारण सा लगने वाला गुड़हल का फूल और उसके पत्ते मानव जीवन के लिए कितने उपयोगी और लाभकारी है |

Tags: hibiscus flower benefits, hibiscus flower information, hibiscus flower for hair, hibiscus flower meaning, hibiscus plant, hibiscus lower classifications, hibiscus leaves, गुडहल का तेल, गुड़हल के फूल का पाउडर, बालों के लिए गुड़हल के फायदे

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 3.2 / 5. Vote count: 6

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

We are sorry that this post was not useful for you!

Let us improve this post!

Tell us how we can improve this post?

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.