Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

जाने ! अग्रसेन की बावली (Agrasen ki Baoli ) भूमिगत ऐतिहासिक स्मारक के बारे में

अग्रसेन की बावली (Agrasen ki Baoli ) एक ऐतिहासिक संरचना है जो कि आज भी अच्छी स्थिति में है| इसका निर्माण जल संरक्षण के लिए किया गया था ताकि जल की कमी को पूरा किया जा सके| इसे भारत सरकार द्वारा अवशेष अधिनियम 1958 के अंतर्गत संरक्षण प्रदान किया गया है| इस बावली का निर्माण […]

भारत की प्रथम महिला रिकॉर्डिंग गायक (On Record Singer)- गौहर जान

बिलकुल आज हम फिर से एक पहेली या एक पहले के अंतर्गत – एक ऐसी सख्स्यित से मिलवाले जा रहे है जो आपके ज्ञानकोष को तो बढेयेगा ही साथ ही साथ आपको 19वी शताव्दी के इतिहास की सैर भी कराएगा. आज हम बात कर रहे है भारतीय फिल्म इंडस्ट्री की पहेली मतलब प्रथम महिला रिकॉर्डिंग […]

जंगल में बने इस मंदिर में देवी मां की सेविकाएं नहलाती हैं भक्‍तों को

जतमई धाम, छत्तीसगढ़ : जतमाई छत्तीसगढ़ के प्रमुख पर्यटन स्थलों में से एक जंगलो के बीच घिरा हुआ पर्यटन स्थल है जतमई धाम गरियाबंद में रायपुर से 85 किमी की दूरी पर स्थित है। जो की प्रकृति के गोद में बसा हुआ है। यह स्‍थल जंगल के बीचों-बीच बना है। जतमाई अपने कल कल करते […]

महावतार बाबाजी - Autobiography of a Yogi नामक पुस्तक से एक चित्र, जिसे योगानन्द जी ने स्वयं की ब्बाजी से हुई एक भॆंट के स्मरण के आधार पर बनाया था।

महावतार बाबा जी जो आज भी जीवित है 5000 वर्षो से – अदभुत

क्या आपको लगता है जो आपको दिख रहा है वही सच है तो ऐसा नहीं है क्युकी आपको विश्वास नहीं होगा जानकार की इस धरती पर कुछ लोग बहुत पुराने काल से आध्यात्मिक जीवन जी रहे है ये बिलकुल अद्भुत अविश्वसनीय अकल्पनीय तो है ही पर एक दम सत्य और प्रमाणित है ” श्री सिद्द […]

क्या आप जानते है दुनिया के सबसे ऊंचाई पर बसे गांव के बारे में?

क्या आप जानते है दुनिया के सबसे ऊँचे गांव के बारे में, जी हा में बता रहा हु दुनिया का सबसे ऊंचाई पर बसा गांव, जिसका नाम है किब्बर (Kibber village) गांव. यह गांव समुन्द्र तल से करीब करीब 4850 मीटर की ऊंचाई पर हिमाचल प्रदेश के स्पीति घाटी (spiti valley)में बसा है. यह गांव हिमाचल […]

जरूर जाए प्रकति की गोद में बसे बारह ज्योतिर्लिंगों के उद्गम स्थल जागेश्वर मंदिर

उत्तराखंड के प्रमुख देवस्थलो में “जागेश्वर धाम या मंदिर” प्रसिद्ध तीर्थ स्थान है | यह उत्तराखंड का सबसे बड़ा मंदिर समूह है | यह मंदिर कुमाउं मंडल के अल्मोड़ा जिले से 38 किलोमीटर की दुरी पर देवदार के जंगलो के बीच में स्थित है | जागेश्वर को उत्तराखंड का “पाँचवा धाम” भी कहा जाता है […]

भारत का मंदिर जो दिन में दो बार गायब होता है : Shree Stambheshwar Mahadev

भारत का मंदिर (Shree Stambheshwar Mahadev) जो दिन में दो बार गायब होता है : अतुल्य भारत  India’s temple twice a day is missing : incredible India बिलकुल सही सुना आपने, वाकई एक मंदिर ऐसा भी है भारत में जो रोज़ समुंदर की लहरों में गायब हो जाता है और फिर दिखने लगता है. यह घटना […]