गरुड़ पुराण

क्यों निर्वस्त्र स्नान नहीं करना चाहिए, श्रीकृष्ण ने बताया था

हिन्दू धर्म ग्रंथों में बहुत सी उपयोगी बातों का जिक्र किया गया है, उन्हीं में से कुछ खास बातें हम आपको बताने जा रहे हैं। हम में से अधिकांश व्यक्ति पूर्णत: निर्वस्त्र होकर स्नान करते हैं लेकिन श्रीकृष्ण के अनुसार ऐसा कदापि नहीं करना चाहिए। पद्मपुराण के अंतर्गत निर्वस्त्र होकर स्नान करने को निषेध कर्म माना गया है। अब ऐसा क्यों, ये जानने की कोशिश करते हैं पद्मपुराण के अनुसार

How to become a good wife in Hindi

अगर आपकी पत्नी में है ये चार गुण तो आप है दुनिआ के भाग्यशाली व्यक्ति हिंदू धर्म में पत्नी को पति की अर्धांगिनी भी कहा जाता है, जिसका अर्थ है पत्नी पति के शरीर का आधा अंग होती है। आपने शिव जी और पारवती माँ का अर्धनारीश्वर रूप मंदिर में जरूर देखा होगा, जो बताते है की कैसे स्त्री और पुरुष एक दूसरे के पूरक है. कैसे प्रकर्ति इस सृष्टि

you should not eat food of these peoples

गरुण पुराण में मृत्यु पश्चात की घटनाओं, प्रेत लोक, यम लोक, नरक तथा 84 लाख योनियों के नरक स्वरुपी जीवन आदि के बारे में भगवान विष्णु ने अपने वाहन गरुड़ को विस्तार से बताया गया है। इसके अलावा भी इस ग्रन्थ में कई मानव उपयोगी बातें लिखी है जिनमे से एक है की किस तरह के लोगों के घर भोजन नहीं करना चाहिए। 1. कोई चोर या अपराधी कोई व्यक्ति

what happens after death in hindi

गरुण पुराण, वेदव्यास जी द्वारा रचित 18 पुराणो में से एक है। गरुड़ पुराण में 279 अध्याय तथा 18000 श्र्लोक हैं। इस ग्रंथ में मृत्यु पश्चात की घटनाओं, प्रेत लोक, यम लोक, नरक तथा 84 लाख योनियों के नरक स्वरुपी जीवन आदि के बारे में विस्तार से बताया गया है। किसी की मृत्यु के बाद घर-परिवार के लोग ब्राह्मण द्वारा ये ग्रंथ सुनते हैं। इस पुराण में भगवान विष्णु ने