कंप्यूटर Monitor क्या है और जानिये उसके प्रकार

Monitor क्या है? – यह एक टीवी के समान screen वाली आउटपुट device है| इसे हम विजुअल डिस्प्ले unit भी कहते है| Monitor पर दिखने वाली आकृति छोटे-छोटे बिन्दुओं से मिलकर बनी होती है| यह बिंदु पिक्सेल कहलाते है| पिक्सेल screen पर row व column में होते है| जहाँ पर row की संख्या 480 तथा column की संख्या 640 होती है| Row व column का गुणनफल रेजोलुशन कहलाता है| Monitor

What is the "WWW" World Wide Web? के बारे में हिंदी में जानकारी

Word Wide Web (www) के बारे में जानकारी  आप जब भी कोई वेबसाइट open करते है तो आपने देखा होगा कि उसमे www जरुर लगा होता है जैसे – www.hindihaihum.com आदि| लेकिन क्या आप जानते है कि आखिर यह होता क्या है और इसे वेबसाइट के साथ क्यों लगाया जाता है| तो आज इस लेख के माध्यम से हम आपको इसके बारे में सारी जानकारी देने जा रहे है| www

कैश मैमोरी क्या है? (What is Cache Memory ?) 

कैश मैमोरी (Cache Memory) बहुत ज्यादा तेज ,लेकिन आकार में छोटी होती है| जिसे computer में CPU व main memory के मध्य स्थित किया जाता है और जिसका access time ,CPU की प्रोसेसिंग गति के समकक्ष होता है| कैश memory उन program व निर्देशों को अपने अन्दर अस्थाई रूप से save कर लेती है जिनका use बार-बार किया जाता है| जब भी प्रोसेसर कोई डाटा को प्रोसेस करता है तो

Computer Programming Language प्रोग्रामिंग भाषा क्या है?

Language बातचीत करने का एक माध्यम होती है| Language के कारण ही लोग एक-दुसरे से बात करते और समझते है| उसी प्रकार computer की भी अपनी एक अलग language है जिसे वह समझता है उसे हम Programming Language कहते है| Programming Language में वह सभी चिन्ह ,संकेत ,अक्षर व नियम होते है जिसके माध्यम से user ,computer से प्रभावी संचार (communication) संपन्न करता है| Computer Programming Language के प्रकार –

Operating Systems क्या है इसकी विशेषता और उपयोग जानिये

Operating System प्रोग्राम का एकीकृत रूप होता है जो computer user तथा computer hardware के बीच मध्यस्थ का कार्य करता है| Operating System अपने user को ऐसा वातावरण प्रदान करता है जिससे user अपने प्रोग्राम को आसानी से execute कर सके| Operating System computer के उपयोग को सरल बनाता है तथा computer hardware का efficient  तरीके से उपयोग सुनिश्चित करता है| यह computer system के सभी operation को कंट्रोल करता

जाने कंप्‍यूटर की संरचना (Know Computer Architecture in Hindi)

आज हम आपको इस लेख के माध्यम से computer की संरचना के बारे में बताने जा रहे है कि आखिर computer की कार्य प्रणाली क्या है| यदि आप computer की कार्य प्रणाली पर ध्यान दे तो आप देखेंगे कि computer कुछ सूचनाओं को प्राप्त करता है फिर निश्चित निर्देशों का प्रदत्त क्रम में अनुपालन करते हुए सूचना की आवश्यकतानुसार गणना व उसका विश्लेषण कर ,शुध्द एवं सत्य परिणाम को प्रस्तुत

कंप्यूटर का पीढ़ी दर पीढ़ी विकास Generation of Computer - कंप्यूटर का इतिहास

हमने आपको पिछले लेख में बताया कि computer का अविष्कार कैसे हुआ ,और किसने किया| आज हम आपको computer जनरेशन के बारे में बताने जा रहे है| computer में अलग-अलग डिवाइस लगाकर उसे दिन प्रतिदिन बेहतर बनाने की प्रक्रिया ही computer जनरेशन या पीढ़ी कहलाती है| इसे 5 भागों में बांटा गया है – 1. प्रथम पीढ़ी के computer ( 1942 – 1955 ) 2. द्वितीय पीढ़ी के computer (

कंप्यूटर का आविष्कार कब, कैसे और कहाँ किसने किया - कंप्यूटर ज्ञान

कंप्यूटर से तो आप सब परिचित ही होंगे ,क्योंकि आज के समय में बच्चे हो ,या बड़े सभी लोग इसका इस्तमाल कर रहे है| कंप्यूटर एक ऐसा इलेक्ट्रोनिक यंत्र है जो बड़ी से बड़ी गणना को कुछ ही सेकण्ड में कर सकता है| और कंप्यूटर से हम हर प्रकार की जानकारी भी प्राप्त कर सकते है| लेकिन क्या आपने कभी ये सोचा है कि आखिर कंप्यूटर आया कैसे ,इसका निर्माण

अपने PayTM Wallet में फ्रॉड होने से कैसे बचे, क्या करे और क्या न करे? - PayTM Safety

अपने PayTM Wallet में फ्रॉड होने से कैसे बचे, क्या करे और क्या न करे? (How to avoid fraud in your PayTM Wallet, what to do and what not to do? – PayTM Safety Tips) PayTM भारत का सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाला इ-वॉलेट है. इसके द्वारवा आप शौपिंग, रिचार्ज, बिल पेमेंट, टिकेट बुकिंग, पेमेंट ट्रान्सफर इत्यादि कर सकते है. अब लोग PayTM वॉलेट को इतना इस्तेमाल करने लगे है

महान वैज्ञानिक स्टीफन हॉकिंग के अदृभुत और अनमोल सुविचार

स्टीफन विलियम हॉकिंग ये नाम आप पहले से ही जानते होंगे और आने वाली पीढियां इन्हें कभी भुला नहीं पायेगी. क्युकी स्टीफन विलियम हॉकिंग ने दुनिया को अपने कई शोधों से बार बार चौंकाया। स्टीफन का जन्म 8 जनवरी 1942 को इंग्लैंड के ऑक्सफोर्ड में हुआ था। बचपन से स्टीफन ने सोच लिया था कि वह अंतरिक्ष वैज्ञानिक बनना चाहते थे। महज 21 वर्ष की उम्र में एक दिन जब