कैश मैमोरी क्या है? (What is Cache Memory ?) 

कैश मैमोरी (Cache Memory) बहुत ज्यादा तेज ,लेकिन आकार में छोटी होती है| जिसे computer में CPU व main memory के मध्य स्थित किया जाता है और जिसका access time ,CPU की प्रोसेसिंग गति के समकक्ष होता है| कैश memory उन program व निर्देशों को अपने अन्दर अस्थाई रूप से save कर लेती है जिनका use बार-बार किया जाता है| जब भी प्रोसेसर कोई डाटा को प्रोसेस करता है तो सबसे पहले उसे कैश memory में देखता है ,जब वह file कैश memory में नहीं मिलती है तो वह बाद में प्राइमरी memory को चेक करता है| कैश memory का प्रयोग main memory व CPU की गति के मध्य 1:10 के अनुपात को overcome करने के लिए किया जाता है| यह memory static RAM से बनी होती है| यह CPU व RAM के बीच high speed buffer का कार्य भी करती है| इस memory को CPU memory भी कहते है क्योंकि यह CPU में स्थित होती है|

कंप्यूटर का पीढ़ी दर पीढ़ी विकास Generation of Computer – कंप्यूटर का इतिहास

Cache Memory Write Operation की प्रक्रिया –

इस प्रक्रिया का मतलब कैश memory में लिखने से है| यह प्रक्रिया दो प्रकार की होती है|
1. Write Through प्रक्रिया : यह अत्यधिक use की जाने वाली प्रक्रिया है ,इसमें main memory को write operation की प्रत्येक memory के साथ अपडेट किया जाता है| यदि यह विशिष्ट address का कोई वर्ड सम्मिलित करती है तब यह Write Through प्रक्रिया कहलाती है| इस प्रक्रिया का यह फायदा है कि main memory हमेशा कैश memory के समान ही data को सम्मिलित करती है|

2. Write Back प्रक्रिया : इस प्रक्रिया में केवल कैश memory ही write operation के दौरान अपडेट की जाती है| उसके बाद location को एक फ्लैग द्वारा चिन्हित कर दिया जाता है|

Operating Systems क्या है इसकी विशेषता और उपयोग जानिये

कैश मेमोरी के लाभ (Know Benifits of Cache Memory):

कंप्यूमटर प्रोसेसर को सामान्य त है रेम से डेटा पढने में लगभग 180 नैनो सेकेण्डस (1 सेकेण्डb = 1 अरब नैनो सेकेण्डो) का समय लगता है, इस समय को Memory Access time (मेमोरी एक्सेस टाइम) भी कहते है. Memory Access time (मेमोरी एक्सेस टाइम) जितना कम होता है कंप्यूटर की गति इतनी अधिक होती है| लेकिन जब यह डेटा कैश मेमोरी (Cache Memory) से प्राप्तक किया जाता है तो केवल 45 नैनो सेकेण्डइ का समय लगता है तो आप समझ ही गये होगें कंप्यूएटर और फोन में कैश मेमोरी कितनी लाभ दायक होती है कैश मेमारी की वजह से आपके फोन और कंप्यूगटर की स्पी ड काफी बढ जाती है Cache Memory का use computer की speed को बढ़ाने के लिए किया जाता है ,और यही इसका सबसे बड़ा फायदा है|

Computer Programming Language प्रोग्रामिंग भाषा क्या है?

इसे ऐसे समझते है :

मेमोरी एक्सेस टाइम Memory Access Time:
मेमोरी की एक लोकेशन को पढ़ने या लिखने में जो समय लगता है मेमोरी एक्सेस टाइम कहते है

मेमोरी साइकल टाइम Memory Cycle Time :
दो स्वतंत्र कार्यों को शुरू करने के मध्य का समय मेमोरी साइकल टाइम कहलाता है

टाइम डिले Time Delay:
दो कार्यों के मध्य टाइम डिले (पहले कार्य के खत्म होने व दूसरे कार्य को शुरू करने के मध्य का समय) भी शामिल होता है

मेमोरी साइकल टाइम = मेमोरी एक्सेस टाइम + टाइम डिले
Memory Cycle Time = Memory Access Time + Time Delay

types of cache memory, importance of cache memory, cache memory tutorial, cache memory mapping, cache memory pdf, cache memory size, advantages of cache memory, cache memory example, कैश मेमोरी, कैश मेमोरी के लाभ, कैश मेमोरी क्या लाभ है, डेफिनिशन ऑफ़ कैश मेमोरी, कैश मेमोरी के प्रकार, लेवल ऑफ कैश मेमोरी, रजिस्टर मेमोरी, फ़्लैश मेमोरी

कैश मेमोरी के नुकसान ( Problems by Cache Memory) :

कैश मेमोरी डाटा एप्लीकेशन उपयोग करने के दौरान तैयार होती है और उस एप्लीलकेशन से संबधित टैंपरेरी फाइल तैयार कर सुरक्षित कर लेती है जो आपके सीपीयू के प्रयोग में आती है लेकिन कैश मेमारी से डाटा अपने आप डिलीट नहीं होता है कैश मेमोरी का साइज बहुत ही छोटा होता है इस कारण यह जल्दीा भर जाती है और आपका कंप्यूनटर और मोबाइल हैंग करने लगता है कैश मेमारी को फुल होने से बचने के लिये कुछ समय के अंतराल पर इसे क्ली‍न करते रहें इससे आपके कंप्यूैटर या फोन को कोई नुकसान नहीं पहुंचेगा, अपनी आवश्यमकता अनुसार सीपीयू इसे तुरंत ही तैयार लेगा

Sponsored Links

Sponsored

Subscribe Us

नयी और पुरानी जानकारियाँ अपनी ईमेल बॉक्स में पाए, अपनी ईमेल ID नीचे भरे.:

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.