जाने मार्शल आर्ट को लोकप्रिय किसने बनाया ? – Martial Arts

0
204
0
(0)

Know Who made popular martial arts?

मार्शल आर्ट एक प्राचीनकाल की युद्ध कला है जिसमे हम बिना शस्त्र के अपने विरोधी से लड़ाई लड़ते है| यह कला आत्मरक्षा के लिए सीखी जाती है| मार्शल आर्ट की शुरुआत भारत देश से ही हुई थी| कहा जाता है कि भगवान परशुराम व ऋषि अगस्त्य इस कला को भारत देश के दक्षिण भाग से लेकर आये थे| पहले इसे कलरीपायट्टू अर्थात बिना शस्त्र की लड़ाई कहते थे| लेकिन बाद में इसका नाम मार्शल आर्ट पड़ गया|

मार्शल आर्ट का जन्म तो वैसे भारत में हुआ लेकिन यह सबसे ज्यादा लोकप्रिय चीन में हुआ| इसका पूरा श्रेय बोधिधर्म को जाता है| अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर बोधिधर्म कौन थे| तो आपकी जानकारी के लिए बता दे बोधिधर्म वह महान व्यक्ति है जिन्होंने मार्शल आर्ट को इतना लोकप्रिय बनाया है| तथा इस कला को एक प्रकार की अलग पहचान दी है|

बोधिधर्म का जन्म 5वी व 6वी शताब्दी में दक्षिण भारत में पल्लव राज्य के कांचीपुरम के राजा सुगंध के यहा हुआ था| बोधिधर्म को बचपन से ही बौद्ध धर्म और उसकी शिक्षाओं में बहुत रूचि थी ,इसलिए वे बहुत कम उम्र में ही बौद्ध भिक्षु बन गये| वे अपने गुरु महाकश्यप से बौद्ध धर्म की शिक्षा प्राप्त करने लगे|  इसके साथ-साथ वे कलारिपायट्टू की भी कलाएं सीखने लगे|

जब बोधिधर्म के गुरु का निधन हो गया तो वे अपनी बौद्धिक शिक्षा को ओर आगे बढ़ाने के लिए चीन चले गये| लेकिन चीन में उनका सफ़र बहुत कठिनाईयों से भरा था| जब बोधिधर्म चीन पहुंचे तो शाओलिन टेंपल में उन्हें प्रवेश नहीं मिला ,तो उन्होंने कई वर्षों तक उसी टेंपल के पास रहकर कठिन तपस्या की| जिसे देखकर शाओलिन टेंपल के भिक्षु बहुत प्रभावित हुए और बोधिधर्म को वहाँ पर प्रवेश मिल गया| बोधिधर्म ने शाओलिन टेंपल में रहकर बौदधिक शिक्षा ली और वही पर रहकर वहाँ के भिक्षु को बौद्ध धर्म की शिक्षा देने लगे| इसके साथ-साथ वे वहाँ के भिक्षुओं को कलारिपायट्टू की कला भी सीखाने लगे क्योंकि वे चाहते थे कि भिक्षु आत्मज्ञान के साथ आत्मरक्षा का भी गुण सीखे| जिससे वे मानसिक व शारीरिक दोनों रूप से मजबूत बने|

बोधिधर्म पावर्स, बोधिधर्म हिंदी, बोधिधर्म की जीवनी, बोधिधर्म की कहानी, बोधिधर्म मूवी, बोधिधर्म फिल्म, बोधिधर्म का इतिहास
Image Courtesy – Google

चीन में बोधिधर्म द्वारा सीखाई गई इस कला को मार्शल आर्ट का नाम दिया गया| तब से शाओलिन टेंपल में मार्शल आर्ट इतना प्रसिद्ध हो गया है कि दुनिया भर से लोग इसे सीखने के लिए यहाँ पर आते है| इस प्रकार बोधिधर्म ने इस कला को दुनिया भर में इतना लोकप्रिय कर दिया ,कि हर कोई इसे सीखना चाहता है|

जरूर जानिये भारत की 10 मार्शल आर्ट्स कलाएँ – Know about 10 form of Martial Arts.

 

 

 

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

We are sorry that this post was not useful for you!

Let us improve this post!

Tell us how we can improve this post?

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.